स्तुति

२१. स्तुति – जो ईश्वर वा किसी दूसरे पदार्थ के गुण ज्ञान, कथन, श्रवण और सत्यभाषण करना है, यह ‘स्तुति’ कहाती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *