सुख-वर्षा

शंयोरभिस्रवन्तु नः = हमारे लिए लौकिक एवं मोक्ष दोनों प्रकार के सुखों की सभी ओर से वर्षा कीजिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *