प्रत्यक्ष

८६. प्रत्यक्ष – जो प्रसिद्ध शब्दादि पदार्थों के साथ श्रोत्रादि इन्द्रिय और मन के निकट सम्बन्ध से ज्ञान होता है, उसको ‘प्रत्यक्ष’ कहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *