39 – तीर्थस्थान (~भारत चालीसा)

भारत गौरव गान या भारत चालीसा
स्वर : ब्र. अरुणकुमार “आर्यवीर”

39 – तीर्थस्थान
जहां सुशोभित बड़े-बड़े मठ-मन्दिर पावन तीर्थस्थान।
गिरि विंध्याचल, गौरीशंकर, गोवर्धन, कैलाश उत्तान।।
गंगोत्री, हरिद्वार, बनारस, काशी, गया, प्रयाग-महान।
गुफा-अजन्ता, कलकत्ता, मदुरा, बम्बई, हैं कीर्तिवान।।
पूरब में है जगन्नाथ, है सोमनाथ पश्चिम में आन।
उत्तर में है बद्रिनाथ, दक्षिण में है रामेश्वर-मान।।
नगर अयोध्या, गोकुल, मथुरा, वृन्दावन भूतल भगवान।
पुष्कर पाटलीपुत्र व दिल्ली इन्द्रप्रस्थ कुरुक्षेत्र महान।।
नासिक आग्रा गढ़ चित्तौड़ ग्वालीयर आलीशान।

है भूमण्डल में भारत देश महान।।
है भूमण्डल में आर्यावर्त महान।।