33 – देशरत्न (~भारत चालीसा)

भारत गौरव गान या भारत चालीसा
स्वर : ब्र. अरुणकुमार “आर्यवीर”

33 – देशरत्न
जहां हुए हैं ईश्वरचन्द्र, विद्यासागर जैसे कर्णधार।
शरतचन्द्र औ प्रेमचन्द्र से उपन्यास के श्री औतार।।
हुए सुदर्शन, जयशंकर सम कथाकार प्रिय नाटककार।
पृथ्वीराज कपूर सु अभिनेता से परिचित है संसार।।
जहां पद्मश्री से भूषित हैं नृत्य-नायिका भारत नार।
और सु छबि-दिग्दर्शक शान्ताराम को जानत है संसार।।
तेनजिंग धनराज तेंडुलकर विश्व में पाए ख्याति अपार।
दारासिंह है पहलवान, किंगकोंग को जिसने दिया पछार।।
जहां हुए दानी बिरला, टाटा, नानजी, धनवान।

है भूमण्डल में भारत देश महान।।
है भूमण्डल में आर्यावर्त महान।।