Loading...

Audio Tag: Karao Ke

ब्रह्म से बिछडकर कहां रह सकेगा।यहां रह सकेगा, न वहां रह सकेगा।। टेक।। सदा साथ है तेरे सदा साथ रहेगा।तू कब तक सच से यूं अनजान रहेगा।अज्ञान अपना न क्या [ … ]

साथी सारे जगे तू न जागा

बेला अमृत गया, आलसी सो रहा, बन अभागा।साथी सारे जगे तू न जागा।। झोलियाँ भर रहे भाग्य वाले, लाखों पतितों ने जीवन सम्भाले।रंक राजा बने, भक्ति रस में सने, कष्ट [ … ]

ब्रह्म युजित उन्मुक्त तू हो जा

(तर्ज :- दर्शन दो घनश्याम) ब्रह्म युजित उन्मुक्त तू हो जा धरती वासी रे।। टेक।। देश देश ना सीमा तेरी, ब्रह्माण्ड रागमय वीणा तेरी।फैल बिखर जा अन्तस्वासी, दिव्य आकाशी रे।। [ … ]

बढ़ता चल आर्य वीर दल

बढ़ता चल बढ़ता चल आर्य वीर दल।सत्य मार्ग पर चला रुके न एक पल।। टेक।। प्रेम का संचार परस्पर सदा रहे।द्वेष भाव लेश मात्र भी जुदा रहे।मन रहे पवित्र कि [ … ]

आर्य वीर दल रहा रहेगा प्राण आर्यों का

आर्य वीर दल रहा रहेगा प्राण आर्यों का।इससे ही होना है नव निर्माण आर्यों का।। टेक।। गुरुवर दयानन्द का इससे गहरा नाता है।आर्यवीर दल पुनः जागरण शंख बजाता है।।लेखराम का [ … ]

और किसका मैं पकडुँ सहारा

और किसका मैं पकडुँ सहारा।स्वामी तेरे सिवा कोई नहीं है।। टेक।। जिन्दगी को मैं खोता रहा यूँ।गफलत में मैं सोता रहा यूँ।कितनी गुजरी हैं दिन और रातें।नीन्द आँखों से धोयी [ … ]

आर्यवीर बन जाएं हम सब

आर्यवीर बन जाएं हम सब, आर्यवीर बन जाएं।जीवन सफल बनाएं (2) हम सब आर्यवीर बन जाएं।। टेक।। दुर्गुण सारे दूर भगाएं, शुभगुण धारण करें कराएं।उत्तम कर्म कमाएं (2) हम सब [ … ]

आनन्द सुधासार दयाकर

आनन्द सुधासार दयाकर पिला गया।भारत को दयानन्द दुबारा जिला गया।।टेक।। डाला सुधारवारि बढ़ी बेल मेल की।देखो समाज फूल फबीले खिला गया।। 1।। अब कौन दयानन्द यति के समान है?।महिमा अखण्ड [ … ]