Loading...

Articles Tag: PDF Books

सफल गृहणी बनने के एक सौ एक सूत्र’

ममेरी बहन रीती की बेटी रोमा के विवाह पर ‘‘परीक्षा में सफलता के एक सौ एक सूत्र’’ पुस्तक देख कुछ भाभियों नें साधिकार अनुरोध किया कि मैं सफल गृहणी बनने [ … ]

आर्याभिविनयः

ग्रन्थ  परिचय महर्षि ने ‘आर्याभिविनय’ नामक लघु ग्रन्थ द्वारा ईश्वर के स्वरूप का ज्ञान कराया है। वेदों के मूल मन्त्रों का हिन्दी भाषा में व्याख्यान  करके ईश्वर  के स्वरूप  का [ … ]

अगाओ की किताब बेकुबा

‘‘बेकुबा’’ है ‘‘अगाओ’’ की किताब। देवता, फरिश्ता, दूत, पैगम्बर नहीं – आदमी लिखता है। अगाओ पहली अर्चना है आदमी की, जिसकी कोई भाषा नहीं। भाषा कैद कर डालती है भगवान, [ … ]

यज्ञोपैथी

यद्यपि यज्ञ शब्द बहुत व्यापक है, जिसका अर्थ है देवताओं की पूजा, संगतिकरण तथा दान तथापि यज्ञ शब्द अग्निहोत्र अथवा हवन (होम) के लिये सर्वत्र प्रचलित हो गया है । [ … ]

मैंने ईसाई मत क्यों छोड़ा

विगत 29 वर्षों के अपने वैदिक धर्म के अध्ययन से मैं निश्चयपूर्वक यह कह सकता हूं कि पृथ्वी पर सभी मत सम्प्रदायों में वैदिक धर्म के से सार्वभौम कल्याणकारी विचार [ … ]

वैदिक सिद्धान्तावली

वैदिक सिद्धान्तावली पुस्तिका महर्षि दयानन्द सरस्वती प्रणीत कालजयी पुस्तक सत्यार्थ प्रकाश पर आधारित है.. सत्यार्थ प्रकाश के प्रथम दस समुल्लासों (अध्यायों) में आए मुख्य-मुख्य सिद्धान्तों को प्रश्नोत्तर शैली में सरल [ … ]

वैदिक साधना पद्धति

इस पुस्तक में महर्षि दयानन्द जी द्वारा प्रणीत वैदिक संध्योपासना के साथ-साथ प्रणव ध्यान, गायत्री मन्त्र ध्यान, आर्य समाज के द्वितीय नियमाधारित ध्यान, अष्टांग योग से सम्बन्धित चुने हुए अर्थ [ … ]

आर्य वीर दिनचर्या

इस लघु पुस्तिका में आर्यवीर की आदर्श दिनचर्या कैसी हो, इस लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए सङ्कलन करने का यत्न किया गया है। इसका प्रथम संस्करण हमने सन् १९९१ [ … ]

वेदपाठ

‘‘वेद सब सत्यविद्याओं की पुस्तक है’’ महर्षि दयानन्द जी के इस उद्घोष एवं ‘‘वेद का पढ़ना-पढ़ाना सुनना-सुनाना सभी आर्यों का परम धर्म है’’ इस प्रकार के स्पष्ट निर्देश के कारण [ … ]

पितर सिद्धान्त बनाम पीटर प्रिस्कृप्शन

पीटर प्रिस्कृप्शन PETER PRESRIPTIONS लारेस जे पीटर की प्रसिध्द पुस्तक ‘‘दी पीटर पुस्तक प्रबंधन के श्रेष्ठ में एक नया उद्बोध माना गया है। पीटर का मूल सिध्दंात यह है कि [ … ]

Page 1 of 2
1 2