Loading...

Articles Tag: Anuvaad Kala

अनुवाद कला अभ्यास २

१. देवापि , शन्तनु और वाल्हीक ये प्रतीक के पुत्र थे |= देवापि: शन्तनु: वाल्हीकश्च प्रातीका: आसन् | २. कर्ण और अश्वथामा पाण्डवों के जानी दुश्मन थे |= कर्ण: अश्वथामा [ … ]

अनुवाद कला पाठ १

अभ्यास १ १. हम ईश्वर को नमस्कार करते हैं और पाठकों का मङ्गल चाहते हैं |= वयम् ईश्वरम् वन्दामहे पाठकानां च अरिष्टम् अभिलषामहे | २. राजा दुष्टों को दण्ड देता [ … ]