Loading...
Today's Words

Pradarshani Tag: Arya Samaj Mahapurush

भाई परमानन्द (संवत 1933-2004)

भाई परमानन्द (संवत 1933-2004) लाहौर डी.ए.वी. कॉलेज के प्रवक्ता, विदेशों में वैदिक धर्म के प्रचारक, क्रान्तिकारी देशभक्त, ब्रिटिश राज्यकाल में कालापानी दण्डभोगी, देवतास्वरूप।

श्यामजी कृष्ण वर्मा (संवत 1914-1987)

श्यामजी कृष्ण वर्मा (संवत 1914-1987) क्रान्तिकारियों के गुरु, संस्कृत के विद्वान्, ऑक्सफर्ड विश्वविद्यालय स्नातक, लण्डन बैरिस्टर, इंग्लैण्ड में इंडिया हाऊस के स्थापक, म.दयानन्द की प्रेरणा से आर्य धर्म प्रचारक।

पं. गंगाप्रसाद उपाध्याय (संवत 1938-2025)

पं. गंगाप्रसाद उपाध्याय (संवत 1938-2025) प्रसिद्ध लेखक एवं प्रकाशक, यशस्वी दार्शनिक, स्वाध्यायशील, अनुपम विद्वान, संस्कृत-हिन्दी-उर्दू-अंग्रेजी के पूर्ण ज्ञाता, अनेक साहित्य पुरस्कारों से विभूषित।

पं. ब्रह्मदत्त जिज्ञासु (संवत 1950-2021)

पं. ब्रह्मदत्त जिज्ञासु (संवत 1950-2021) आर्ष पाठविधि के प्राण, महर्षि दयानन्दकृत यजुर्वेद भाष्य के व्याख्याकार, रामलाल कपूर ट्रस्ट के संचालक, अनेक आर्य विद्वानों के गुरु।

पं. रामचन्द्र देहलवी (संवत 1938-2025)

पं. रामचन्द्र देहलवी (संवत 1938-2025) उत्कृष्ट तार्किक, अद्भुत भाषणशैली के धनी, युक्तियुक्त वक्ता, मनमोहक व्यक्तित्व, अरबी के प्रकाण्ड ज्ञाता, मधुर स्वभावी, शिष्ट व्यवहर्ता, सहृदय, दिव्य पुरुष, शास्त्रार्थ महारथी।

पंजाब केसरी लाला लाजपत राय

पंजाब केसरी लाला लाजपत राय (संवत 1922-1985) (1865-1928) डी.ए.वी. कॉलेज लाहौर के स्तम्भ, मूर्धन्य वकील, कट्टर देशभक्त, निर्भीक शीर्षस्थ नेता, अद्भुत वाक्शक्ति, साहसी, उत्साही, बहुमुखी प्रतिभाशाली।

महात्मा हंसराज (संवत 1921-1995)

महात्मा हंसराज (संवत 1921-1995) दयानन्द एंग्लोवैदिक कॉलेज लाहौर के अवैतनिक प्राचार्य, समाज सुधारक, विद्या-धर्म-आत्मबलिदान-तप और त्याग के मूर्तिमन्त रूप, महामानव।

मुनिवर पं. गुरुदत्त विद्यार्थी (संवत 1921-1967)

मुनिवर पं. गुरुदत्त विद्यार्थी (संवत 1921-1967) आर्य समाज के मनीषी, उत्कृष्ट विद्वान्, साधु स्वभाव, वैराग्य वृत्ति, तीव्र प्रतिभा, कुशाग्र बुद्धि, ऋषिभक्त, नास्तिक से आस्तिक।

धर्मवीर पंडित लेखराम (संवत 1915-1953)

धर्मवीर पंडित लेखराम (संवत 1915-1953) आर्य समाज के उज्वल नक्षत्र, विशिष्ट व्यक्तित्व, भावुक प्रवृत्ति, स्पष्ट एवं निर्भीक वक्ता, वीर नरपुगव, आर्य केसरी, आर्य पथिक।

स्वामी वेदानन्द तीर्थ (संवत 1951-2013) (1894-1956)

स्वामी वेदानन्द तीर्थ (संवत 1951-2013) (1894-1956) वेदों के उद्भट विद्वान्, अद्भुत व्याख्याता, प्रभावशाली लेखक, बहुभाषाविज्ञ, दशाधिक वेदव्याख्याग्रन्थ प्रणेता, दयानन्द संन्यासी वानप्रस्थ मण्डल के संस्थापक।