Loading...
Today's Words

Audio Tag: Aryaveer Geetanjali

ब्रह्मन् स्वराष्ट्र में हों..!!

ब्रह्मन् स्वराष्ट्र में हों, द्विज ब्रह्म तेजधारी। क्षत्रिय महारथी हों, अरिदल विनाशकारी।। 1।। होवें दुधारु गौएं, पशु अश्व अशुवाही। आधार राष्ट्र की हों, नारी सुभग सदा ही।। 2।। बलवान सभ्य [ … ]

राष्ट्रगान

आ ब्रह्मन् ब्राह्मणो ब्रह्मवर्चसी जायताम्। आ राष्ट्रे राजन्यः शूर इषव्योऽति व्याधी महारथो जायताम्। दोग्ध्री धेनुर्वोढाऽनड्वानाशुः सप्तिः पुरन्धिर्योषा जिष्णू रथेष्ठाः सभेयो युवास्य यजमानस्य वीरो जायताम्। निकामे निकामे नः पर्जन्यो वर्षतु फलवत्यो [ … ]

कृण्वन्तो विश्वमार्यम्

एक साथ उच्चार करें, हम ऐसा व्यवहार करें। एक मन्त्र का घोष करें, कृण्वन्तो विश्वमार्यम्।। टेक।। आज नहीं प्राचीन समय से वेद हमारा साथी। दूर दूर तक फैलाई थी वैदिक [ … ]